सरकार को तीनों कृषि कानून वापस लेने होंगे - इफ्तिखार महमूद




वर्ष 2020 में केंद्र सरकार द्वारा बनाया गया तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर तथा श्रमिकों को बंधुआ बनाने वाली श्रम कानूनों में किए गए संशोधनों के खिलाफ राष्ट्रव्यापी काला दिवस के मौके पर झारखंड के सभी जिलों मे भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के नेतृत्व मे काला दिवस का आयोजन किया गया।

उक्त कार्यक्रमो को संबोधित करते हुए झारखंड आंदोलनकारी एवं ठीकेदारी मजदूर यूनियन के महासचिव इफ्तेखार महमूद ने पिछले 6 महीने से चल रहे किसान आंदोलन को तिनों कृषि कानून को वापस लेने तक जारी रखने का ऐलान किया। 

लालपनिया मे आयोजित धरना में समीर कुमार हालदार, गेंदों केवट,मुकुंद साव, बीरबल हांसदा, देवानंद प्रजापति, सुरेश प्रजापति,मंजूर अंसारी इत्यादि मुख्य रूप से उपस्थित थे।

 वही साडम में आयोजित कार्यक्रम में अनवर रफी, दिलगर केवट, मंजूर अंसारी, सिकंदर अंसारी,वासुदेव केव,पुष्पा देवी, रीना देवी, रेखा देवी, लक्ष्मी देवी मुख्य रूप से भाग लिया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया