N. G. O द युनाईटेड मुस्लिम डेवलेपमेन्ट असेम्वली की ओर से हर साल की तरह इस साल भी सरवरा शरीफ जहानावाद में 94 वां उर्से ख्वाजा इमाम शाह वली धूम धाम से मनाया गया



 *बरेली से जावेद सईद खान की रिपोर्ट* 


पीलीभीत जहानाबाद। पीलीभीत। 

N. G. O द युनाईटेड मुस्लिम डेवलेपमेन्ट असेम्वली की ओर से हर साल की तरह इस साल भी सरवरा शरीफ जहानावाद में 94 वां उर्से ख्वाजा इमाम शाह वली धूम धाम से मनाया गया कुरान की तिलाव के साथ  उर्से का शुभारंभ मौलाना मोहम्मद जीशान हसनी  ने किया हजरत आफताब मियां सज्जादा नशीन ने सरपरस्ती की जबकि अध्यक्षता मशहूर स्कालर मुफ्ती साजिद हसनी कादरी ने की         कोविद 19 का पालन करते हुए 94 वा उर्से ए ख्वाजा इमाम शाह वली  सरवरा शरीफ जहानाबाद में आए  *मुख्य अतिथि बरेली मन्डल के मशहूर स्कालर मुफ्ती साजिद हसनी कादरी ने सेकडो हेलमेट व सीटबेल्ट पहनकर कर वाहन चलाने की लोगों को शफथ दिलाई वहीं यह भी शपथ दिलाई के शादियों में बैन्ड बाजा डी जे नहीं बढ़ाएंगे और बगैर दहेज़ के शादियाँ करेगें*

उन्होंने कहा कि तालीमी बेदारी पे काम करना एक अज़ीम काम है जो इन खाकाहो की क्यादत मे उभर कर पूरी दुनिया में छा सकता हैं

हिंदुस्तान की हज़ारों खानकाहे है जिनके दामन में करोडो अफ़राद पनाह लेते है जहाँ हुज़ूम दर हुज़ूम लोग आते हैं अपनी नजरे झुकाते है

अगर ये खानकाहे इल्मी इफलास को दूर करने की कोशिस करे तो हिंदुस्तान से मुसलमानो का इल्मी इफलास दूर हो जायेगा

खानकाहो और दरसगाहो का रिश्ता ता बहुत पुराना है

हर खानकाह से हिंदुस्तान में एक यूनिवर्सिटी बन सकती हैं 

सैकड़ों खानकाहे सैकडों यूनिवर्सिटीयो को जन्म दे सकती हैं

मगर अफसोस 

*कि रह गई रस्में अदा रूहे बेदारी ना रही*

*फाल्सफा रह गया तनकिने गजाली न रही*

काश खानक़ाहे बेदार हो जाती

हमे अपने अस्लाफ की रिवायतो को इल्मी बुनियाद पर ज़िंदा रखने के लिए मुसलसल काम करना होगा

हाल के दहाईयों के अंदर कुछ खानकाहो मे तालीमी बेदारी नज़र आ रही हैं 

चिश्ती खानकाहे अशरफिया किछौछा शरीफ व कादरी सिलसिले की मशहूर खानकाह खानकाहे बरकातिया के सज़्ज़ादगान व ज़िम्मेदारान ने अपने हल्के अहबाब व मुरीदीन मे  तालीमी मुहिम छेड़ रखी हैं और खुद भी तालीम को आम करने तालीमी निज़ाम को मजबूत व मुस्तहकम करने और ज्यादा से ज्यादा मुफीद बनाने में अपनी भरपूर तवानाइया सर्फ कर रहे है

खानका बरकातिया के सज़्ज़ादा नशीन *प्रोफेसर सैयद शाह मोहम्मद अमीन मियां कादरी बरकाती* साहब कौम के नाम अपने एक पैगाम मे अपनी फिक्र मन्दी और दिल शोजी के ज़ज़्बे का इज़हार फरमाते हुए कहते है

अपने बच्चो को सही परवारिश करे अच्छी तालीमी दे और उसे अच्छी तरबियत दे तालीम के फारोग के लिए कोशा रहे 

बरकाती खानका का पैगाम भी ये है कि

*आधी रोटी खाओ बच्चो को पढाओ*

काश यही पैगाम हर खानका से बुलंद हो तो फिर उम्माते मुसलिमा मे एक खुशग्वार तालीमी इंकलाब बेदार होने मे देर नही लगेगी     अध्यक्षता करते हुए मुफ्ती साजिद हसनी ने अपनी तकरीर मे कहा कि इस्लाम अमन व शान्ती का पैगाम देता है। उन्होने कहा कि सूफी संतो की दरगाह हमारी अकीदत का मरकज़ है उन्होने उच्य  शिक्षा की ओर बच्चो को बढ़ाने की अपील की। उन्होने कहा कि मुसलमानों की दीनी तालीम के साथ दुनियावी तालीम (शिक्षा) की ओर बच्चो को ध्यान दिलाना चाहिए। उन्होने कहा कि मोहम्मद अलै हिस्सलाम ने फरमाया है कि मां की गोद से लेकर कबर तक शिक्षा हासिल करना चाहिए।

आल इण्डिया उलेमा मशाइख बोर्ड के जिला अध्यक्ष मुफ्ती नूर मो0 हसनी ने ख्वाजा इमाम शाह वली की जीवनी पर विस्तार से रोशनी डालते हुए कहा कि इस्लाम दुनिया का सबसे पवित्र मजहव है। कुरान पाक सव इन्सानो के लिए हिदायत की किताब है आधी रोटी खाओ बच्चो को पढ़ाओं के नारे पिंडाल (जलसे) मे लगने लगे उन्होने मुसलमानो से अपील की है कि वह अपने बच्चो उच्च शिक्षा की तरफ ध्यान दे। उन्होने अपने आका की हदीस को व्यान किया कि इल्म (शिक्षा) हासिल करो चाहे तुम्हे चीन (दूसरेमुल्क) क्यो न जाना पढ़े। कान्फे्रस का संचालन फाजिल -ए- मंजरे इस्लाम मौलाना इर्शाद कादरी ने किया उर्से ख्वाजा इमाम मे मुस्लिम कान्फे्रस मे आए सभी महमानों का आभार व्यक्त किया। कान्फे्रस मे मो0 इमरान अंसारी, इमामी जाने ,मो0 जीलानी, आफताब इमामी, मौलाना इरशाद मेहदी मिंया, इकरार अहमद अंसारी, नियाज अहमद, अकील अहमद मुस्ताकीम अन्सारी नातख्वान शाएरे इस्लाम मोहम्मद जीशान अत्तारी हल्द्वानी मुफ्ती अशफाक अहमद अंसारी मुफ्ती साजिद हसनी कादरी साहिब ए सज्जादा आफताब मियां इमामी मुफ्ती इर्शाद महदी मियां मौलाना नईम अशरफी  मौलाना मोहम्मद आरिफ मौलाना रिजवान रिजवी मोहम्मद आजम हाफिज महताब आलम हजारो की संख्या मे मुसलमानो के शिरकत की मुफ्ती साजिद हसनी मुफ्ती अशफाक हुसैन ने मुल्क मे अमन व अमन की दुआ मांगी

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग