संविधान भारत के लोगो का भाग्य-विधाता नही रह गया है EVM देवता यंत्र ही लोगो के भाग्य का फैसला कर रहा है*

 *संविधान भारत के लोगो का भाग्य-विधाता नही रह गया है EVM देवता यंत्र ही लोगो के भाग्य का फैसला कर रहा है*




*सेवा मे••••*                             *18/03/2021*  

*माननीय श्रीमान महोदय---*

*केन्द्रीय निर्वाचन आयोग नई दिल्ली नम्बर*


*देशहित-जनहित मे काननून अंतिम रिमांडर*


*विषय:--माननीय महोदय पूर्व कि सभी माँगो के साथ-साथ "EVM-मशीन यंत्र" कि बजाय बैलेट-पेपर से चुनाव हो तथा यदि जब "नोटा-बटन" को दबाकर कोई भी मतदाता चुनाव का बहिष्कार करता है तो वह "नोटा-बटन" को दबाने वाला मतदाता किसी भी पार्टी के प्रत्याशी को पसंद नहीं करके "नोटा-बटन" का इस्तेमाल करता है कि वह वोटर-मतदाता "EVM-मशीन" के खिलाफ "नोटा-बटन" का इस्तेमाल करता है इसका फैसला कैसे हो कि "वोटर-मतदाता" वह "नोटा-बटन" का इस्तेमाल प्रत्याशी के खिलाफ कर रहा है कि "EVM-मशीन यंत्र" के खिलाफ कर रहा है तथा दोनो का अलग-अलग विकल्प देशहित-जनहित मे होना चाहिए कि नही इसका फैसला आपको ही करना है कि माननीय अदालत को करना है कि संसद-भवन को करना है कि आपके महान आफिस से जो लगभग 2300 के ऊपर पार्टियाँ रजिस्टर्ड है उनके अध्यक्ष/उपाध्यक्ष/महासचिव/कोषाध्यक्ष आदि को करना कि आमतौर पर सार्वजनिक तौर पर सर्वे कराकर करना है कि कैसे लोगो के मौलिक अधिकार का हनन रोका जाय जो इस EVM मशीन से हो रहा है तो सभी देशवासी/वोटर-मतदाता के मौलिक अधिकार को कैसे सुरक्षित रखा जाय तो देश कि लगभग 135 करोड़ के जनता या लगभग 110 करोड़ के इर्द-गिर्द वोटर को चुनाव के समय देशहित-जनहित मे 4-चार विकल्प दिये जाने चाहिए*

*1)विकल्प--EVM मशीन पर प्रत्याशी/पार्टी का चुनाव बटन हो* 

*2)विकल्प---बैलेट पेपर से चुनाव हो उसका बटन हो*

*3) विकल्प---EVM मशीन से चुनाव उसका बटन हो*

*4)विकल्प--ऑनलाइन से चुनाव हो तो उसका बटन भी हो*

*इसीलिऐ आप सभी वोटर-मतदाता के मौलिक-अधिकार कि परवाह करते हुऐ ऐसा उचित कदम उठाये ऐसे चुनाव करवाने के माँग के संदर्भ में तथा अंतिम रिमांडर संक्षेप मे फिर बहुजन हसरत पार्टी नत-मस्तक होकर देशहित-जनहित मे आपसे समक्ष इस प्रकार से पेश करती है उसी के सम्बन्ध/बावत मे----------------------------------------*


*माननीय चुनाव आयोग महोदय जी*


*बहुजन हसरत पार्टी BHP को माँग और अपील करने मे व लिखने मे कोई "अपराध व गलती" हो गयी हो तो "देशहित-जनहित" मे क्षमा करिये क्योंकि लोग और कुछ समर्थक हम पदाधिकारी को भयभीत करते रहते है कि EVM बंद करने के लिए तथा "'बैलेट पेपर"' से चुनाव कराने कि माँग करोगे तो मुसलमान होने के नाते हमारे साथ अप्रिय घटना भी करवायी जा सकती है लोग डराते है कि EVM मशीन को हटाकर बैलेट-पेपर से चुनाव कि माँग करने वाला आज तक जिंदा बचा ही नही है तथा बहुजन हसरत पार्टी BHP कि मान्यता रद्द हो सकती है मगर हमे कानून और आप सभी पर 101% पूरा भरोसा है हम और हमारी पार्टी बहुजन हसरत पार्टी BHP को देशहित-जनहित मे हर समय आप लोगो के रहते पूरा यकीन है कि हम और यह बहुजन हसरत पार्टी BHP का कोई बाल-बाँका नही कर सकता है आप सभी के आशीर्वाद-दुआ से हम सभी बखूबी सुरक्षित ही रहेगे इसी के बल पर ही BHP ने देशहित-जनहित में तमाम अपील /प्रार्थना आपसे कि बार-बार कर रही है*


*बहुजन हसरत पार्टी BHP ने दिनांक 25/11/2020, 27/11/2020, 30/11/2020, 08/12/2020, 28/12/2020, 15/01/2021, 22/01/2020 तथा 06/02/2021 इन तारीखों को आपके कार्यालय में लिखित अपील देशहित-जनहित में भेजा था जिनका संक्षेप में विवरण नीचे दिया जा रहा है*


*माह नवम्बर 2020 (25/11/2020, 27/11/2020) में बहुजन हसरत पार्टी ने बिहार चुनाव के बाद देशहित-जनहित में आपसे 1)...EVM के बजाय बैलेट पेपर से चुनाव कराये जाये...2)...देश के सभी 2300 पार्टियों के अध्यक्ष व महासचिवों के वोट के माध्यम से यह तय किया जाये कि 3)...वे सभी 2300 पार्टियों के अध्यक्ष आदि लोग चुनाव बैलेट पेपर से चाहते है कि EVM से चाहते है..4)...देश के सभी 135 करोड़ मतदाता/नागरिकों के वोट से भी तय किया जाये कि देश के लोग बैलेट पेपर से चुनाव चाहते है कि EVM से चुनाव चाहते है इसके लिये पर्ची पर दो चुनाव चिन्ह दिए जाय 1/A--बैलेट पेपर और 2/B--EVM मशीन यंत्र जिस पर लोग टिक मार्क करके या मुहर मार करके तय कर सके..तथा सभी पार्टियों के MP/MLA को भी "लोक-प्रतिनिधी" होने के चलते आम नागरिकों में ही गिना जाये और उनका भी मत आम नागरिक जैसा ही लिया जाये...5)...सभी राजनैतिक पार्टी को "कलाकार जाति पेशेवर जाति" के लोगो के जनसँख्या-नुसार चुनाव में टिकट देना अनिवार्य किया जाय ऐसा व्हिप निकाला जाए तथा कानून भी बनाया जाय... 6)...यदि बैलेट पेपर से चुनाव नहीं कराया जाये तथा "कलाकार जाति पेशेवर जाति" को जनसंख्या-नुसार टिकट नहीं मिलते है तो फिर सभी 2300 पार्टियों का रजिस्ट्रेशन ही रद्द किया जाये आदि ऐसी अनेक अपील कि गयी थी*


*माह दिसंबर 2020 (08/12/2020, 28/12/2020) में बहुजन हसरत पार्टी BHP ने आपसे उपरोक्त माह नवम्बर कि सभी माँगो के साथ-साथ देश के इंजिनियर व बुद्धिजीवी को खुलेमंच पर EVM हैकिंग करने के लिये आमंत्रित किया जाये तथा सभी 2300 पार्टियों के राष्ट्रीय अध्यक्ष को EVM मशीन को हैक करने के लिए आमंत्रित करने कि अपील आपसे कि थी*


*माह जनवरी 2021 (08/12/2020, 28/12/2020) बहुजन हसरत पार्टी BHP ने आपसे उपरोक्त माह नवम्बर-दिसम्बर कि सभी माँगो कि अपील पुनःह कि थी*


*माह फरवरी 2021(06/02/2020) उपरोक्त माह नवम्बर-दिसंबर-जनवरी कि सभी माँगो के साथ-साथ महाराष्ट्र विधान सभा के भाँति सभी राज्यों के विधानसभा और लोकसभा में भी EVM के साथ-साथ "बैलेट पेपर" से वोट करने का विकल्प नोटा-बटन कि तर्ज पर मतदाताओं को देने के लिये कानून बनाने कि अपील कि थी*


*आपको 06/02/2021 को अंतिम रिमाइंडर देशहित-जनहित में पार्टी अध्यक्ष ने व्यक्तिगत तौर पर नहीं बल्कि बहुजन हसरत पार्टी कि तरफ से भेजा गया था जिसका जवाब हमें आपके कार्यालय द्वारा बिना उचित संज्ञान लिये बिना ही माननीय दीपक कुमार महतो साहब (अवर सचिव) साहब हस्ताक्षरित दिनांक 25/02/2021 के पत्र के माध्यम से दिया है जिसमे लिखा है कि आपके इस पत्र को दिनांक 28/01/2021 को जवाब दिया जा चुका है*


*जब कि आपके द्वारा हमारे दिनांक 15/01/2021 के पत्र को जवाब आपने दिनांक 28/01/2021 को भेजा था वास्तव में हमारे दिनांक 15/01/2021 के पत्र कि अपील से हमारे दिनांक 06/02/2021 के पत्र कि अपील अतिरिक्त/बहुत अलग है जैसे आज दिनांक 18/03/2021 के पत्र में भी अतिरिक्त माँगे कि जा रही है*


*माननीय महोदय जी कुछ लोग ऐसा डराना चालू कर दिये कि मुसलमान होने के नाते (आप-हम पर) कोई बड़ी कार्यवाही भी हो सकती है और आपकी पार्टी कि मान्यता भी रद्द हो सकती है परंतु देशहित-जनहित के विरुद्ध यदि हमारी पार्टी कि माँग गलत है तो हमारी पार्टी कि मान्यता अति-शीघ्र रद्द भी हो जाये तो हमें कोई गिला-शिकवा नहीं है या हमारी माँग जो सही है उसे तत्काल देशहित-जनहित में अमल में लाया जाय आपकी महान कृपा होगी*


*माननीय महोदय जी बहुजन हसरत पार्टी द्वारा पहले से कि गई तमाम अपील/निवेदन के साथ-साथ चुनाव में "EVM" या "बैलेट पेपर" का उपयोग करने के विकल्प कि आजादी होनी चाहिए तथा देश के 140 करोड़ लोगो के मौलिक अधिकार को कोई खत्म न कर सके--इस बहुजन हसरत पार्टी BHP को की पूर्व कि माँग को तब अधिक बल मिला जब महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष जी ने भी बहुजन हसरत पार्टी BHP कि बात दोहराते हुए एक प्राप्त याचिका /निवेदन द्वारा राज्य के लोगो को EVM या बैलेट पेपर से चुनाव में वोट देने के विकल्प हेतु कानून बनाने कि माँग कि गई थी जिसको संज्ञान में लेकर 02/02/2021 को महाराष्ट्र विधान सभा के अध्यक्ष के नेतृत्व में संविधान कि धारा 328 के तहत "विधान-भवन" में अन्य मंत्री गण राज्य मुख्य निर्वाचन अधिकारी विधि व न्याय सचिव आदि के साथ बैठक करके राज्य में लोगो को चुनाव में EVM के साथ-साथ "बैलेट पेपर" से वोट करने का विकल्प देने के लिये कानून बनाने कि प्रक्रिया शुरू करवाकर जन-भावना का सम्मान किया है और बहुजन हसरत पार्टी BHP ने अपनी पूर्व कि तमाम माँगो के साथ महाराष्ट्र विधानसभा के भाँति सभी राज्यो के विधानसभा और लोकसभा में भी EVM के साथ-साथ "बैलेट पेपर" से वोट करने का विकल्प "नोटा-बटन" कि तर्ज पर मतदाताओं को देने के लिये कानून बनाने कि अपील आपसे दिनांक 06/02/2021 को कि थी*


*...महोदय, देश में लगभग 2300 के करीब पार्टियाँ आप द्वारा रजिस्टर्ड है EVM में धांधली के कारण कुछ पार्टियों को छोड़कर बाकी सभी पार्टियाँ चुनाव हारती रहती है तथा EVM के वजह से सैकड़ो पार्टियों के उम्मीदवार चुनाव लड़ने से परहेज भी करते है*


*..सैकड़ो पार्टियों को अपने-अपने राज्य-जिलो-शहरों में अपार जन-समर्थन मिलने के बावजूद भी हम जैसी छोटी-मोटी पार्टियों को EVM में धांधली के कारण चुनाव हार जाने के डर से कोई भी उम्मीदवार नहीं मिल पा रहे है आप द्वारा लगभग जो 2300 पार्टियों को मान्यता मिली है वह सही है परंतु EVM रहते हुए हम अन्य सभी छोटी पार्टियों का उभरना असंभव है*


*...ऐसे में चुनाव न लड़ने के कारण हमारे जैसी सैकड़ो पार्टियों कि मान्यता आप/चुनाव आयोग द्वारा रद्द भी कर दिया जा सकता है यह डर/भय भी लगा रहता है इसलिए यही वजह से हमने अभी तक "आडिट-आदि" वगैरह भी जमा नही कर पाये है लोग न चंदा देते है और नाहि इस EVM मशीन यंत्र के रहते हुए जनता-लोग हम जैसी अन्य किसी छोटी-मोटी पार्टी से जुड़ना भी पसंद नही कर रहे है कलाकार जाति पेशेवर जाति वाले लोग यही भी कहते है कि आप पार्टी के लोग EVM मशीन यंत्र के रहते हुए फालतू मे समय और पैसा बर्बाद न करो हम लोग बहुजन हसरत पार्टी BHP को क्या किसी भी पार्टी से नही जुड़ेगे और नाहि किसी के सामने कुछ बयान ही देगे परन्तु जब तक EVM देवता मशीन यंत्र है कोई छोटी-छोटी पार्टियों का उदय हो पाना बहुत ही मुश्किल है ऐसा जमीन हकीकत बहुजन हसरत पार्टी BHP आपके सामने प्रस्तुत कर रही है उपकार करिये आप 140 करोड़ वोटर-मतदाता पर देशहित-जनहित मे उपकार करिये*


*...माननीय सुप्रीम कोर्ट ने भी अपने 8.10.2013 के आदेश में माना है कि EVM से छेड़खानी संभव है*


*माननीय महोदय है "नोटा-बटन" पर यदि प्रत्याशी से ज्यादा "वोट-मत" नोटा-बटन को मिले है और अन्य पार्टी के प्रत्याशी-उम्मीदवार को कम वोट-मत मिले है तो ये कैसे सिद्ध होगा कि लोग प्रत्याशी/उम्मीदवार को नकारे है कि EVM मशीन यंत्र को नकारे है तो ऐसी विषम परिस्थिति मे जब ज्यादा वोट "नोटा-बटन" को मिल गया हो तो क्या चुनाव रद्द माना जायेगा कि या सब प्रत्याशी से ज्यादा जिस प्रत्याशी/उम्मीदवार को ज्यादा मत-वोट मिला है क्या उसे विजयी घोषित किया जायेगा या चुनाव रद्द-दुबारा होगा दिनाँक 16/03/2021 को यशोभूमि (मुंबई) खबरे आज तक (मुंबई) आदि तमाम अखबारों में छपी खबरों से ये मालूम पड़ा है कि श्री. एड्वोकेट अश्विनी कुमार उपाध्याय द्वारा सुप्रीम कोर्ट में "नोटा" के संदर्भ में याचिका दाखिल हुई है तथा 16/03/2021 के कुछ अख़बार कि कटिंग व BHP द्वारा पूर्व में दिये गये सभी आठो तारीख कि प्रार्थना पत्र/अपील कि झेरॉक्स कॉपी आपके संज्ञान हेतु पुनः संलग्न की जा रही है*


*माननीय महोदय जी हम आपके संज्ञान में यह सिद्ध करना चाहते है कि हम जमीन से जुड़े लोग है लोगो के मन में क्या चल रहा है हमे पता है महोदय जी देश के लगभग 90% से 95% लोगो को ये विश्वास हो गया है कि जनता के "फ्रीडम ऑफ़ स्पीच एंड एक्सप्रेस" इस संविधानिक मौलिक अधिकार का हनन EVM द्वारा किया जा रहा है जिसके चलते EVM के प्रति लोगो में घोर गुस्सा पनप रहा है लोग भीमवादी बनकर अपना गुस्सा "नोटा-बटन" पर उतार रहे है इसके लिऐ चंद लोग यह अफ़वाह फैला रहे है कि वोटर-मतदाता प्रत्याशी-उम्मीदवार को नकार रहे है परंतु हकीकत में लोग EVM मशीन यंत्र को नकार रहे है*


*महोदय जी जब हम समाज मे जाते है तो लोग हम छोटी पार्टियों को ताना मारते है तथा कहते है कि आपने पार्टी क्यों बनाई है जब तक EVM है हम आपको न वोट देंगे और नाहि कभी चंदा आदि ही देगे क्योंकि EVM मशीन हमारा वोट किसी दूसरे को ट्रांसफर करती है  इसके लिए हम लोग EVM के प्रति अपना गुस्सा उतारने के लिए हम आपको वोट देने के बजाय "नोटा-बटन" को वोट देते है यह हमारा EVM के विरोध में गुस्सा है हम कानून का संविधान का सम्मान करते है इसलिए EVM तोड़ने के बजाय हम "नोटा-बटन" को दबाते है*


*लोग यह भी कहते है कि जब तक EVM रहेगा तब तक हम "नोटा-बटन" को ही वोट देंगे उम्मीदवार कौन है कैसा है दागी है या साफ सुथरे है इससे हमें कोई लेना देना नहीं इसलिए "नोटा-बटन" को सबसे ज्यादा वोट मिलते है तो इसका मतलब प्रत्याशी-उम्मीदवार को नकारना नहीं है इसका साफ-साफ मतलब EVM को नकारना है*


*महोदय जी लोग ये भी कहते जाओ पहले EVM बंद करवाकर आओ वरना समाज मे ही मत आओ फिर आगे कहते है कि अब संविधान भारत के लोगो का भाग्य-विधाता नहीं रह गया है अब तो EVM देवता मशीन यंत्र से वोटिंग करवाने वाले माननीय चुनाव आयोग ही भारत के 140 करोड़ लोगो का भाग्य-विधाता बन बैठे है जमीनीस्तर पर अब 90% लोगो का यही कहना है कि अब पानी सिर के ऊपर से जा रहा है हमारे मत देने के अधिकार को EVM के माध्यम से जबरन छीना जा रहा है देशहित-जनहित मे लोग ये कहना भी चालू कर दिये है जल्द ही हम EVM मशीन कि धज्जियाँ उड़ा देंगे*  


*नोट:1---महोदय 10.01.2017, 18.01.2017, 19.02.2018 को पहले 3 संस्था के माध्यम से दरगाह शरीफ शहीद इसराइल शाह बाबा जनकल्याण सेवा संस्था (10.01.2017), संत रविदास एवं अम्बेडकर जन कल्याण सेवा समिती (18.01.2017)  मुस्लिम जन कल्याण सेवा संस्था (19.02.2018) आदि संस्था के माध्यम से अपील/प्रार्थना भेजा गया था जिसमें देशहित में ये कहा गया था कि जिस तरह माननीय सुप्रीम कोर्ट के 7 जजों के खण्डपीठ द्वारा अभिराम सिंह बनाम सी.डी. कामेच्छेन के मुक़दमा नं. 37/1992 में पारित आदेश दिनांक 02.01.2017 में यह आदेश था कि कोई भी पार्टी अब जाति-धर्म के नाम पर वोट नहीं माँगेगी जो कि माननीय अदालत का यह ऐतिहासिक फैसला देशहित-जनहित में बहुत ही अच्छा और सराहनीय था तीनो संस्था ने आपसे 02.01.2017 के आदेश को संज्ञान में लेने कि अपील कि थी कि यदि आप देश के सभी पार्टियों को देशहित-जनहित  मे यह आदेश देवे कि जो भी पार्टियाँ सर्व-समाज के सभी वर्गों को जनसंख्या के आधार पर टिकट नहीं देगी उन्हें चुनाव में भाग लेने का कोई अधिकार कदापि नहीं होगा परंतु आप द्वारा उस समय कोई रूचि दिखाई नहीं दी गयी*


*नोट 2:---माननीय महोदय तब संस्था के पदाधिकारियों ने  7/7 P.I.L/S.L.P(C) दाखिल करके देश के वंचित 124 क्या  "कला और पेशा" में बँटी हजारों जातियों को महान नया नाम "कलाकार जाति पेशेवर जाति" देकर उनके उद्धार के लिये SC ST भाई की तरह "सेवा और ख़िदमत" के नाम पर लोकसभा-राज्यसभा-विधानसभा-विधान परिषद आदि में राजनैतिक आरक्षण देने कि अपील किया था जिसे माननीय अदालत ने केंद्र सरकार को कोई डायरेक्शन न देकर "दिस इस नॉट मैन्टिनेबल" करके ख़ारिज कर दिया इसके लिये नोट नम्बर 1 और 2 पर देशहित-जनहित में गौर करना नितान्त आवश्यक है*


*अतः देशहित-जनहित-लोकतंत्र कि रक्षा के लिये बहुजन हसरत पार्टी पुनः पूर्व में कि गई तमाम माँगो के साथ-साथ EVM पर लोगो द्वारा उठाये जा रहे सवालो को ख़त्म करने के लिये तथा जन-भावना का आदर करते हुए महाराष्ट्र विधानसभा के भाँति सभी राज्यो के विधानसभा और लोकसभा में भी EVM के साथ-साथ "बैलेट पेपर" से वोट करने का विकल्प मतदाताओं को देने के लिये कानून बनाने कि पहल करे आखिर नोटा भी तो एक विकल्प है उसी नोटा विकल्प के भाँति आप चुनाव में EVM के साथ-साथ "बैलेट पेपर" से वोट करने के लिये कानून में संशोधन करे तथा 1) EVM पर नोटा-कोई प्रत्याशी पसंद नहीं है इस विकल्प वाले बटन के साथ-साथ 2) बैलेट पेपर से चुनाव हो उसका बटन हो 3) EVM मशीन से चुनाव उसका बटन हो 4) ऑनलाइन से चुनाव हो तो उसका बटन के भी विकल्प हो.....ऐसी प्रार्थना/निवेदन/माँग/गुजारिश बहुजन हसरत पार्टी पुनः पूर्व कि भाँति इस अपील के माध्यम से आपसे करती है यदि गलत लगे तो देशहित-जनहित में क्षमा करिये आपकी कृपा होगी*


*-------------------------------------अथवा*

          *अपील-माँग-निवेदन देशहित-जनहित मे आगे जारी है*

*-------------------------------------------*

*सेवा मे आदरणीय* 

*1...माननीय प्रधानमंत्री जी, प्रधानमंत्री कार्यालय भारत सरकार नई दिल्ली 110011* 


*2..आदरणीय लोकसभा स्पीकर संसद भवन, भारत सरकार नई दिल्ली 110001*


*3…सेक्शन ऑफिसर, PMO, साउथ ब्लॉक नई दिल्ली - 110011*


*4.... सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण मंत्रालय,भारत सरकार, शास्त्री भवन, नई दिल्ली -110001*                                                         


*5..सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण मंत्रालय, भारत सरकार : B-2,पंडित दीनदयाल अन्त्योदय भवन, ग्राउंड फ्लोर, CGO काम्प्लेक्स  लोधी रोड, नई दिल्ली – 110003*


*6…. सचिव, राष्ट्रिय पिछड़ा वर्ग आयोग (NCBC) : त्रिकूट-भीकाजी कामा पैलेस नई दिल्ली - 110066*


*विषय:----श्रीमान महोदय जी 28/5/2019 से लेकर 22/01/2021 तक करीब 20 महीना तक लगातार 178 speed post व रजि० अपील-माँग-निवेदन देशहित-जनहित मे बहुजन हसरत पार्टी BHP ने आप सहित सभी आला आफिसर को देश कि वंचित '"कला और पेशा"' मे बँटी हजारो "कलाकार जाति पेशेवर जाति" वाले लोगो को SC ST भाईयो कि तरह ^"सेवा और खिदमत"^ के नाम पर राजनैतिक आरक्षण देने के लिए कानून मे संशोधन करने या नये कानून बनाने के लिए अपील-माँग-निवेदन अन्य माँगो के साथ करती चली आ रही है उन पूर्व कि सभी माँगो के साथ-साथ EVM को हटाकर बैलेट-पेपर से चुनाव हो तथा 140 करोड़ जनता कि राय का सर्वे कराकर तय किया जाय कि लोग EVM से चुनाव चाहते है कि बैलेट-पेपर से चुनाव चाहते है फैसला किया जाय इसके बाद या 2300 पार्टियों के राष्ट्रीय अध्यक्ष व महासचिव से लिखित भी पूंछा जाय कि वे लोग चुनाव किससे चाहते है इन माँगो के संदर्भ में*

*-------------------------------------------*


*श्रीमान महोदय जी*

 

*28/5/2019 से लेकर 22/01/2021 तक करीब 20 महीना तक लगातार 178 speed post व रजि० अपील-माँग-निवेदन देशहित-जनहित मे बहुजन हसरत पार्टी BHP ने आप सहित सभी आला आफिसर को भेजा है सामाजिक न्याय मंत्रालय लीपापोती करने के लिए हमे जवाब भेजती है कि आपका पत्र आगे कि कार्यवाही करने के लिये NCBC को अग्रसर किया जा रहा है जब कि NCBC को कानून बनाने का कोई पॉवर नहीं है यह हम शुरू से ही लिखते चले आ रहे है ..P.M महोदय साहब जी आपके सिवाय कोई और इन कलाकार जाति पेशेवर जाति को SC ST भाई कि तरह "सेवा और ख़िदमत" के नाम पर राजनैतिक आरक्षण नहीं दे सकता है और न ही इनका भला कर सकता है हमारे पास 178 speed post रजि० का जवाब बहुत आया है परन्तु इन कलाकार जाति पेशेवर जाति वाले लोगो को SC ST भाईयो कि तरह सेवा और खिदमत के नाम पर राजनैतिक आरक्षण देने हेतु कोई डायरेक्शन व कानून बनाने कि पहल दूर-दूर तक नजर नही आ रही है जो बहुजन हसरत पार्टी की बहुत ही अफसोस है*


*श्रीमान महोदय जी आप युग-पुरुष हो और आपने जिस तरह मुस्लिम महिलाओं के उद्धार के लिऐ तीन-3 तलाक पर कानून बनाये हो.. जिस तरह आपने 10% गरीब सवर्ण भाईयों को आरक्षण दिए हो ...जिस तरह आपने कश्मीर से 370 व 35 A हटाये हो उसी भाँति कला और पेशा में बँटी वंचित हजारों कलाकार जाति पेशेवर जाति के लोगो को...जो हिन्दू मुस्लिम दोनों समुदायों में पायीं जाती है जो 96% OBC कहलाती है उन्ही लोगो को SC ST भाईयो कि तरह ^"सेवा और खिदमत"^ के नाम पर राजनैतिक आरक्षण सभी सदनों में दे सकते है ऐसा विश्वास बहुजन हसरत पार्टी को आप पर 1000% है इसलिए देशहित-जनहित मे बहुजन हसरत पार्टी BHP फिर वही माँग संक्षेप दे रही है*


*माननीय महोदय जी*

*उपरोक्त माँगो के अलावाँ लगभग 12 कानून और बनाने कि अपील हुई है वे सभी 12 कानून का विवरण देशहित-जनहित मे फिर से देखा जाना चाहिए*


*(1)--"कलाकार जाति पेशेवर जाति'' वाले लोगो को SC ST भाई कि तरह ''सेवा और खिदमत'' के नाम पर राजनैतिक आरक्षण दे दीजिऐ वरना जाति व्यवस्था ख़त्म कीजिए इस मुख्य माँग के साथ-साथ---(2)•••EVM बंद कराकर बैलेट पेपर से चुनाव कराईये---(3)•••आधार कार्ड पर जाति का जिक्र हो---(4)•••स्वास्थ्य पहचान पत्र पर जाति का जिक्र हो---(5)•••2021 कि जनगणना आदि पर "कलाकार जाति पेशेवर जाति'' व घुमंतू जाति आदि सभी लोगो के जाति का जिक्र हो तथा---(6)•••मुस्लिम महिलाओं को 16% सच्चर समिती-रंगनाथ मिश्रा आयोग के सुविधा अनुसार राजनैतिक आरक्षण---(7)••• गरीब सवर्ण भाईयों को भी 10% राजनैतिक आरक्षण दो--(8)•••सुप्रीम कोर्ट से लेकर तहसील स्तर के सभी न्यायालयों में न्यायाधीश-जज में तथा मंत्रिमंडल में भी सर्व समाज के लोगो को आरक्षण-- (9)•••CM--PM के अविश्वास प्रस्ताव के तरह ही MP/MLA के खिलाफ भी अविश्वास प्रस्ताव का कानून---(10)-- संविधान के आर्टिकल 341 के तहत मुस्लिम क्रिश्चन आदि सभी धर्म के दलित भाई को 1935 के कानून कि भाँति आरक्षण---(11)•••6 महीने के अंदर CM--P.M जब-तक किसी एक सदन का सदस्य न बन जावे तब-तक उनके द्वारा बनाया गया कानून अवैध हो---(12)•••NRC CAA NPR जैसे कानून मे मचे कोहराम को खत्म करने कि माँग*


*माननीय महोदय जी*

*यदि इन "कला और पेशा" मे बँटी वंचित हजारो "कलाकार जाति पेशेवर जाति" वाले लोगो को देशहित-जनहित मे SC ST भाइयों कि "सेवा और खिदमत" के नाम पर राजनैतिक आरक्षण देने हेतु कानून नही बनाये तो ये सभी "कलाकार जाति पेशेवर जाति" जो "हिंदू-मुस्लिम" दोनो समुदायो मे पायी जाती है जो 96% OBC कि श्रेणी में आते है ये सभी लोग नया आंदोलन खड़ा करके आने वाले समय मे ऐसा नया नारा लगाना जरूर चालू कर देगे कि हम "कलाकार जाति पेशेवर जाति" वाले लोगो को SC ST भाईयो कि तरह "सेवा और खिदमत" के नाम पर राजनैतिक आरक्षण दो वरना जाति व्यवस्था ही ख़त्म करो*


*124 क्या वंचित हजारो "कलाकार जाति पेशेवर जाति" वाले लोगो के नाम संक्षेप मे देखा जाय "मंडल-आयोग" कि रिपोर्ट मे "आर्टिशियन कास्ट" शब्द अनेको बार आया हुआ है "आर्टिशियन कास्ट" का मतलब "कला और पेशा" होता है संक्षेप मे 124+65 जातियों कि सूंची हमने आपको लगभग 200 बार पूर्व में भेजी है जो आज दिनांक 18/03/2021 को पुनः भेज रहे है*


*1...चुड़ीहार (मनियार) चूड़िया बनाता है 2...मल्लाह निषाद मछलीहार मछली पकड़ता है 3...दर्जी-कपड़ा सिलता है 4...नाऊ-दाढ़ी बनाता है 5...धुनियाँ-रजाई/गद्दा धुनता है 6...डफाली-डफ़ली यानि शादी विवाह में बैंड-बाजा बजाता है 7.. लोनियाँ-ईट बनाता है*


*8..ठठेरा-बर्तन बनाता है 9...धोबी-कपड़ा धोता है 10..मिल्कमैन (यादव)-दूध वाला कहलाता है 11...चौरसिया-पान की पैदावार करता है 12..बढ़ई-कुर्सी मेज बनाता है  13...अंसारी-कपड़ा बुनता हैई 14...कुम्हार (प्रजापति) - मिट्टी का सामान बनाता है*


*15).कहार (गौड़)ईडोली उठता और शादी विवाह में  पानी भरता है...16).लोहार-लोहे का औजार बनाता है...17).सुनार-सोने का आभूषण बनाता है...18).धरिकार-(बंसफोड) बाँस का सारा सामान बनाता है...19).कोईरी-(मौर्य सैनीम कुशवाहा)-सब्जी की पैदावार करता है...20).राईन(कुंजड़ा)-सब्जी बेचता है....21).नोनियाँ-नमक बनाता है*


*22...तांबेर-तांबे का बर्तन बनाता है  23...हवाईदार-पटाखे बनाता है 24... सलमानी(तुर्किया नाऊ) बाल दाढ़ी काटता है  25...रंगरेज-छपाई का काम करता है  26...गुप्ता (भड़भूजा)-चना दाना भूँजते है 27...सिद्दीकी-तेल की पेराई करता है 28...ज्योतिष-भविष्य बताने वाला 29..शेख मेहतर हलालखोर  30..पाल गड़ेरिया धनगर का भेड़-बकरे आदि पालना होता है*

*-------------------------------------------*

*मुख्य नोट:--15/3/2017 को आखिर बहुजन हसरत पार्टी BHP का उदय BSP के जन्मदाता मान्यवर काँशीराम साहब के जन्मदिन पर क्यों हुआ है आखिर बहुजन हसरत पार्टी BHP क्यों बनानी पड़ी है इसका देशहित-जनहित में संक्षेप मे विवरण समझना होगा...."कला और पेशा" मे बँटी वंचित हजारो "कलाकार जाति पेशेवर जाति" वाले लोगो के उद्धार के लिऐ बहुजन हसरत पार्टी BHP ने तीन-तीन संस्थाओ के माध्यम से 7/7 P.I.L और SLP (C) हाई-कोर्ट इलाहाबाद व सुप्रीम कोर्ट नई दिल्ली मे दाखिल करके लड़ाई लड़ी तथा महान नया नाम कलाकार जाति पेशेवर जाति देते हुए SC ST भाईयों कि तरह "सेवा और खिदमत" के नाम पर राजनैतिक आरक्षण देने के लिए कानून बनाने या कानून मे संशोधन करने कि माँग करी थी माननीय अदालत ने केंद्र सरकार को "कला और पेशा" मे बँटी वंचित हजारों कलाकार जाति पेशेवर जाति वाले लोगो के उद्धार के लिऐ SC ST भाईयों कि तरह "सेवा और खिदमत" के नाम पर राजनैतिक आरक्षण देने हेतु कोई डायरेक्शन न देकर सभी P.I.L और SLP (C) दिस इज ऐ नाँट मैन्टीनेबुल करके खारिज कर दी यदि "कला और पेशा" मे बँटी वंचित हजारो "कलाकार जाति पेशेवर जाति" वाले लोगो के उद्धार के लिऐ SC ST भाईयो कि तरह "सेवा और खिदमत" के नाम पर राजनैतिक आरक्षण देने हेतु माननीय अदालत ने केंद्र सरकार को कोई डायरेक्शन कानून बनाने के लिए दे दी होती तो यह बहुजन हसरत पार्टी BHP का उदय BSP के जन्मदाता मान्यवर काँशीराम साहब के जन्मदिन 15/3/2017 को कदापि नही होता*


*अतः बहुजन हसरत पार्टी देशहित-जनहित में यह प्रार्थना/गुजारिश/माँग अपली करती है कि "कलाकार जाति पेशेवर जाति" के लोगो के उद्धार के लिये SC ST भाई कि तरह "सेवा और ख़िदमत" के नाम पर राजनैतिक आरक्षण दे दीजिए तथा उपरोक्त सभी 12 माँगे तथा पूर्व कि सभी माँग के साथ-साथ EVM को हटाकर बैलेट-पेपर से चुनाव हो तथा 140 करोड़ जनता कि राय का सर्वे कराकर तय किया जाय कि लोग EVM से चुनाव चाहते है कि बैलेट-पेपर से चुनाव चाहते है फैसला किया जाय इसके बाद....या....2300 पार्टियों के राष्ट्रीय अध्यक्ष व महासचिव से लिखित भी पूंछा जाय कि वे लोग चुनाव किससे चाहते है...देशहित-जनहित में यह माँग पूरी कि जाये...आपने जिस तरह मुस्लिम महिलाओं के उद्धार के लिऐ तीन तलाक पर कानून बनाये हो..जिस तरह आपने 10% गरीब सवर्ण भाईयों को आरक्षण दिए हो... जिस तरह आपने कश्मीर से 370 व 35 A हटाये हो उससे ठीक उसी तरह ठीक उसी तरह "कला और पेशा" मे बँटी वंचित हजारों "कलाकार जाति पेशेवर जाति" वाले लोगो को देशहित-जनहित मे SC ST भाईयों कि तरह "सेवा और खिदमत" के नाम पर राजनैतिक आरक्षण दो वरना जाति व्यवस्था खत्म करो यह नारा बहुजन हसरत पार्टी नहीं लगा रही है बल्कि आने वाले समय में कलाकार जाति पेशेवर जाति के लोग देश भर यह नारा लगाते हुए नजर आयेंगे...राजनैतिक आरक्षण हेतु उचित कार्यवाही न होने पर बहुजन हसरत पार्टी संविधान के तहत पूर्व में जिस तरह 7/7 P.I.L और SLP (C) दाखिल करके लड़ाई लड़ी फिर उसी भाँति पुनः PIL फाइल करेगी पसमांदा-फँसमांदा काका-कालेलकर आयोग मंडल आयोग सच्चर समीति रंगनाथ मिश्रा आयोग आदि आयोग कि रिपोर्ट मे जिन-जिन जातियों का ज्यादातर जिक्र है उन्ही को बहुजन हसरत पार्टी ने महान नया नाम कलाकार जाति पेशेवर जाति अदालत मे जनहित याचिका दाखिल करके लड़ाई लड़ी तब दिया है*

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग