मुस्लिम मजलिस के राष्ट्रीय अध्यक्ष व प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव दिसंबर 2021 में।

 मुस्लिम मजलिस के राष्ट्रीय अध्यक्ष व प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव दिसंबर 2021 में।



बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए लखनऊ से वीरेंद्र बिष्ट की रिपोर्ट।


1 अप्रैल से 30 सितंबर तक उत्तर प्रदेश में चलेगा मुस्लिम मजलिस का सदस्यता अभियान।


उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड में मोर्चा बनाकर चुनाव में उतरेगी मुस्लिम मजलिस।


 लखनऊ, 8 मार्च, 2021: मुस्लिम मजलिस राज्य परिषद की एक महत्वपूर्ण बैठक, पार्टी के केंद्रीय कार्यालय कैसरबाग चौराहा लखनऊ में पार्टी के  वरिष्ठ सदस्य व संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष, सैयद तौफीक अली जाफरी की साहब की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय संघ के पूर्व अध्यक्ष व इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो डॉ बशीर अहमद खान का परिषद ने सर्वसम्मति से राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए उनके नाम का प्रस्ताव रखा गया। जिसको परिषद के सभी सदस्यों ने ध्वनि मत से स्वीकार कर अपनी सहमति जताई। मुस्लिम मजलिस के राष्ट्रीय अध्यक्ष वसी अहमद एडवोकेट को कार्यवाहक राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में चुना गया। परिषद के सदस्यों ने उम्मीद जताते हुए कहा कि डॉ साहब के नेतृत्व से मुस्लिम मजलिस जहां मजबूत होगी, वही पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मुस्लिम मजलिस का जनाधार काफी तेजी से बढ़ेगा। क्योंकि प्रोफेसर डॉक्टर बशीर अहमद साहब मुस्लिम मजलिस के फाउंडर डॉक्टर अब्दुल जलील फरीदी साहब के नेतृत्व में मुस्लिम मजलिस में काम कर चुके हैं। इसलिए मुस्लिम मजलिस के अलावा देश की राजनीति में उनके अनुभव और उनकी शख्सियत को राजनीतिक क्षेत्रों में अच्छी तरह जाना व पहचाना जाता है। मुस्लिम मजलिस को राष्ट्रीय स्तर पर अधिक सक्रिय व मजबूत बनाने के लिए बैठक में गंभीर चिंतन और मंथन भी किया गया। बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष से पार्टी के वरिष्ठ साथियों के परामर्श से जल्द से जल्द एक राष्ट्रीय इकाई बनाने का अनुरोध भी किया गया। बैठक में मजलिस की दिल्ली इकाई के पूर्व अध्यक्ष डॉ बशीर अहमद खान से मजलिस के नेतृत्व को स्वीकार करने के प्रयासों के लिए अनवर उल इस्लाम साहब को जिम्मेदारी दी गई थी। आज की महत्वपूर्ण बैठक में कार्यवाहक

अध्यक्ष वसी अहमद एडवोकेट, मोहम्मद नदीम सिद्दीकी एडवोकेट, मुस्तकीम मंसूरी, सैयद ज़हीर अनवर, गयास अहमद शेरवानी, मोहम्मद जुनैद, नफ़ीस एडवोकेट, मोहम्मद आक़िब एडवोकेट, मोहम्मद इरफ़ान कादरी, मोहम्मद मोहसिन एडवोकेट, ज़मीरुद्दीन, आरिफ, आरिफ  खान, सामिक एडवोकेट, आदि उपस्थित थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग