यह नया लोकतंत्र है - रीतिक रोशन

बीते रविवार को जामिया मिल्लिया इस्लामिया (Jamia Millia Islamia) और अलीगढ़ मुस्लिम युनिवर्सिटी में नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है. लेकिन छात्रों के साथ पुलिस की बर्बरता ने विरोध प्रदर्शन को हिंसा में बदल दिया. छात्रों के साथ पुलिस के इस व्यवहार को देखते हुए देश के जाने-माने विश्ववविद्यालय जामिया में समर्थन में आ खड़े हुए. उनके साथ-साथ बॉलीवुड कलाकारों ने भी जामिया के छात्रों का खुलकर समर्थन किया. हाल ही में इस मुद्दे को लेकर बॉलीवुड एक्टर ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) ने भी ट्वीट किया है, जो सोशल मीडिया पर खूब सुर्खियां बटोर रहा है. 


अपने ट्वीट में ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) ने छात्रों का जिक्र करते हुए लिखा, "पैरेंट और भारत का नागरिक होने के तौर पर, मुझे हमारे देश के शैक्षणिक संस्थानों में फैली अशांति से काफी दुख हो रहा है. मैं दुआ करता हूं कि इन संस्थानों में शांति जल्द से जल्द लौटे. महान शिक्षक कई बार अपने छात्रों से ही सीखते हैं. मैं दुनिया के सबसे युवा लोकतंत्र को सलाम करता हूं." अपने ट्वीट के जरिए जहां उन्होंने छात्रों का समर्थन किया तो वहीं उन्होंने देश के सभी शैक्षणिक संस्थानों में वापस शांति के लिए कामना भी की. ऋतिक रोशन के इस ट्वीट पर लोग जमकर रिएक्शन दे रहे हैं. 


बता दें कि ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) के अलावा जामिया और देश के बाकी संस्थानों के छात्रों में स्वरा भास्कर, ऋचा चड्ढा, आलिया भट्ट, हूमा कुरैशी, सिद्धार्थ मल्होत्रा, पुल्कित सम्राट और जीशान अय्यूब जैसे कई कलाकारों ने ट्वीट किये थे. वहीं नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर किया जा रहा विरोध प्रदर्शन बीते दिन सीलमपुर में भी हिंसा में बदल गया. प्रदर्शन करने के लिए वहां करीब 2,000 लोग इकट्ठा हुए थे. भीड़ ने सीलमपुर टी पॉइंट से जाफराबाद टी प्वाइंट के बीच पथराव किया. प्रदर्शनकारियों ने इस दौरान पुलिस चौकी को भी आग के हवाले कर दिया. कई बसों में तोड़फोड़ भी की. इसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए. पूरे इलाके में फोर्स तैनात कर दी गई ।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र

ज़िला पंचायत सदस्य पद के उपचुनाव में वार्ड नंबर 16 से श्रीमती जसविंदर कौर की शानदार जीत