चाइना विकसित देश नहीं

चीनी स्टेट काउंसलर और विदेश मंत्री वांग यी ने हाल में ब्रसेल्स में आयोजित यूरोपीय थिंक टैंक की मीडिया की बैठक में कहा कि चीन विकसित देश नहीं है। चीन अभी भी विकासशील देश है। इधर के वर्षों में अनेक पश्चिमी देशों ने विभिन्न मकसदों से चीन को विकसित देश बताया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 2018 के सितंबर को कहा कि चीन ने विकासशील देश के नकली कपड़े पहनकर भारी लाभदायक सत्कार हासिल किया। औस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मोरिसन ने भी चीन को नवोदित विकसित आर्थिक समुदाय भी बताया कि विश्व से चीन के नये स्थान को मान्यता देने की मांग की।


इस की चर्चा में चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने कहा कि हालांकि इधर के वर्षों में चीन का आर्थिक विकास तेज रहा, फिर भी चीन अब भी विकासशील देश है। वास्तव में एक देश को विकसित देश या विकासशील देश का आंकलन करने के लिए अनेक मापदंड हैं। विश्व बैंक के आंकड़े बताते हैं कि 2018 में चीन में औसत व्यक्ति की जीडीपी करीब 9700 यूएस डॉलर रही, जो अमेरिका के लगभग 16.7 प्रतिशत और यूरोपीय संघ के 25 प्रतिशत है और विश्व के औसत स्तर से नीची रही है। यूएन विकास कार्यक्रम द्वारा पेश की गयी एचडीआई से भी जाहिर है कि 2017 में चीन में मानव जाति का विकास सूचकांक सिर्फ 0.752 है, जो दुनिया के 86वें स्थान पर रहा। ये आंकड़े सब बताते हैं कि चीन अभी भी एक विकासशील देश है।


लेकिन विश्व का सब से बड़ा विकासमान देश होने के नाते विश्व के प्रति चीन का योगदान उल्लेखनीय है। चीन विश्व आर्थिक विकास की प्रमुख प्रेरणा शक्ति  है। चीन ने 80 करोड़ लोगों की गरीबी उन्मूलन समस्या का हल भी किया। विश्व बैंक के भूतपूर्व गर्वनर चिम योंग ने इसे मानव जाति के इतिहास में सब से महान कहानियों में से एक बताया।


हालांकि चीन विकसित देश नहीं है, फिर भी विश्व के लिए योगदान देने वाले चीन का इरादे कभी नहीं बदलता है। चीन अपनी यथार्थ कार्यवाई से विश्व की कठिनाइयों को दूर करने के लिए चीनी प्रस्ताव प्रदान करेगा और विश्व अर्थतंत्र के लिए चीनी शक्ति का योगदान प्रदान करेगा। 


(साभार---चाइना रेडियो इंटरनेशनल ,पेइचिंग)


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र

ज़िला पंचायत सदस्य पद के उपचुनाव में वार्ड नंबर 16 से श्रीमती जसविंदर कौर की शानदार जीत