निर्दोष तंग नहीं हो यह सुनिश्चित किया जाए: तंजीमे इंसाफ

 रांची । बीते 10 जून को जुमे की नमाज के बाद महात्मा गांधी मार्ग पर जिसने भी रांची शहर को आग में झोंकने का काम किया उन सभी उपद्रवियों और उन दोषियों की अविलंब गिरफ्तारी की जाए, लेकिन सर्वप्रथम यह सुनिश्चित हो कोई भी निर्दोष तंग नहीं हो। उक्त बातें ऑल इंडिया तंजीम ए इंसाफ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष इफ्तेखार महमूद ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कही।

इफ्तेखार मोहम्मद ने कहा कि इस घटनाक्रम में पत्थरबाजी हुई, कई लोग घायल हुए दो बच्चों की मौत हो गई। बताया जाता है कि मेन रोड पर चारो तरफ व  धार्मिक स्थल से भी गोली चलने की बात सामने आरही है।इस सब की उच्च स्तरीय जांच हो और जिस तरह से 2 सदस्यों की कमेटी को जांच का आदेश मुख्यमंत्री ने दिए हैं संभवत 1 सप्ताह अब हो चला है उसकी रिपोर्ट भी आ जाने से यह स्पष्ट हो जाएगी, कि घटनाक्रम के पीछे की राजनीति क्या है और कौन लोग इसमें शामिल है, कहां-कहां से लोग आए थे। सभी  रिपोर्ट सार्वजनिक होनी चाहिए । साथ ही जिला प्रशासन से अपील करना चाहूंगा कि 10 हजार अज्ञात पर यह फायर दर्ज करने की बात कही गई है और   संभवत छापेमारी शुरू हो गई है , कई लोग की गिरफ्तारी भी हुई  है। सवाल यह है कि जब भीड़   10 हजार से भी कम थी,तो अज्ञात लोग कौन हैं। ऐसा ना हो कि निर्दोष फंस जाए और दोषी बच कर निकल जाये।  सीसीटीवी फुटेज और साक्ष्यों के साथ ही गिरफ्तारी की जाए।   मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की जो रिपोर्ट आएगी उसके बाद  तंजीम के प्रतिनिधि मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव और डीजीपी से मिलकर  अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। इस मौके पर तंजीम इंसाफ के खुर्शीद और अनवर रफी उपस्थित थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग