अब दार्शनिक बने पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, कहा को वायरस भी एक प्राणी उसे भी जीने का अधिकार


 अब दार्शनिक बने पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, कहा को वायरस भी एक प्राणी उसे भी जीने का अधिकार



बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए वीरेंद्र बिष्ट की रिपोर्ट


रामनगर। ये बहुत कम लोगों को ही पता होगा कि भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत दार्शनिक भी हैं। इसका खुलासा आज उन्होंने खुद ही किया। त्रिवेंद्र ने कहा कि मैं एक दार्शनिक बात करता हूं। को वायरस (कोरोना) भी एक प्राणी है और उसे भी जीने का अधिकार है। तू भी चल और हम भी चलते रहें। बस हमें अपनी चाल तेज करनी होगी।एक न्यूज चैनल ने पूर्वी सीएम त्रिवेंद्र से कई मुद्दों पर बात की। कोरोना संकट के सवाल पर उन्होंने एक नया खुलासा किया। बोले, मैं अपना इलाज कराकर दिल्ली से लौटा तो मीडिया ने उन्होंने एक दार्शनिक बात की। मैंने कहा कि ये एक दार्शनिक बात है। ये को वायरस भी एक प्राणी है। हम भी एक प्राणी है। हम अपने आप को ज्यादा बुद्धिमान समझते हैं। उसे (को वायरस) को भी जीने का अधिकार है। हम लोग उसके पीछे पड़ गए तो वह बहुरूपिया हो गया है। रोज रूप बदल रहा है। मैं दार्शनिक बात करता हूं कि को वायरस को भी जीने का अधिकार है। हमें इससे दूरी बनाकर चलना होगा। उसका भी जीवन है। वो भी अपने जीने के लिए तमाम रूप बदल रहा है। ये दार्शनिक पक्ष है कि तू (को वायरस) भी चल और हम भी चलते रहें। हां, हमें अपनी चाल तेज करनी होगी। ताकि हम को वायरस से आगे निकल जाएं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया